World Famous

Kalpana Chawla Ki Puri Jankari Hindi Me



Hello Friends 🤗🤗



दोस्तो आज के इस आर्टिकल में आपको Kalpana Chawla की जिंदगी से जुड़ा हर वो राज बताया जाएगा , जिससे आप अनभिज्ञ है , 

और वैसे भी कुछ दिनों बाद ही कल्पना का जन्मदिन भी है , तो हमारी तरफ से ये उन्हें एक श्रद्धांजलि होगी ।

Kalpana Chawla Ki Puri Jankari Hindi Me
Kalpana Chawla Ki Puri Jankari Hindi Me


क्या NASA को पता नही था कि ये 7 अंतरिक्ष यात्री कभी लौट कर नही आएंगे , 
अगर हाँ तो फिर क्यो उन 6 जनों की जिंदगी और 7 वी Kalpana Chawla के साथ खिलवाड़ किया गया जो जिंदा बच सकते थे ???


ऐसे सभी प्रश्नों के उत्तर आपको आज हमारे इस आर्टिकल में मिलने वाले है , लेकिन उससे पहले हम कल्पना चावला के बारे में थोड़ा जान लेते है ,


दोस्तो बात उस समय की है जब हरियाणा के करनाल में श्री बनारसी लाल की पत्नी संयोगिता जी के 17 मार्च , 1962  को एक बच्ची का जन्म हुआ , और नाम रखा गया " कल्पना " ,

और जैसा हर घर मे एक छोटे बच्चे का कोई प्यारा नाम होता है वैसा ही कल्पना का नाम भी था " मोटू "😊😊 ,

कल्पना को घर पर इसी नाम से बुलाया जाता था , और जैसा कल्पना का नाम था वैसी ही सोच भी थी कल्पना की ,

वो हमेशा अंतरिक्ष के बारे में और उसकी उड़ानों के बारे में सोचा करती थी ,

करनाल की टैगोर पब्लिक स्कूल में कल्पना ने पढ़ाई की शुरुआत की ।

और 1982 चंडीगढ़ के इंजीनियरिंग कॉलेज से एरोनॉटिकल इंजीनियरिंग में ग्रेजुएशन किया , और उसके बाद वो विदेश आगे की पढ़ाई के लिये चली गई ,


NASA Joining ::--- 
                              सन 1988 में कल्पना चावला को
                              नासा में शामिल किया गया , और अपनी मेहनत के बलबूते पर कल्पना को 19 November 1997 में 6 लोगों के अंतरिक्ष मिशन पर शामिल कर लिया गया ,
 जिसकी उड़ान Space Shuttle Columbia फ्लाइट STS-87 के अंदर थी , 

और यह मिशन 5 December 1997 को समाप्त हुआ ,

कल्पना चावला पहली महिला भारतीय थी जिन्होंने अंतरिक्ष के लिए उड़ान भरी ,

पढिये अंतरिक्ष की और भी सभ्यताओ के बारे में Link पर क्लिक करें ::-- 👇👇👇

Brahmand Ki Sabhytaye Or Unke Rahasyamai Tathya

क्योकी पहले भारतीय तो आप सभी लोग जानते हो , 

Indian Astronauts Rakesh Sharma थे , जिन्होंने 1984 में Soyuz T-11 में अंतरिक्ष उड़ान भरी थी , 



कल्पना को सेकण्ड मिशन के लिये भी चुन लिया गया था जो वर्ष  2000 में किया जाना था , पर किसी Technical मिस्टेक के कारण वो Mission Delayed कर दिया गया था ।।


Kalpana Chawla Last Mission ::---

                                                 16 January 2003
को Space Shuttle Columbia से ही ये मिशन शुरू हुआ , ये 16 दिन का mission था , 
और कल्पना व उनके साथियों ने मिलकर अंतरिक्ष मे कुल 80 Experiment किये , 

कल्पना चावला व उनके साथियों का वो क्रू जब पृथ्वी पर लौट रहा था , तब अचानक धरती से 16 मिनट की दूरी पर वो स्पेस शटल Columbia ब्लास्ट हो गया जिसे Space Shuttle Disasters भी कहा जाता है , 


और इसके साथ ही कल्पना चावला और उनके सभी साथीयो की मृत्यु हो गई ,

दोस्तो वो नजारा कोई नही देख सकता था , क्योकि सभी के लिये ये एक भूकंप के झटके जैसा था ,😢😢

क्योकि परिवार उन सभी क्रू मेम्बर्स के थे जो मारे गए ,
पूरी दुनिया मानो थम सी गई हो ,

हर कोई उस घटना पर यकीन नही कर पा रहा था , खासकर के कल्पना चावला के माता - पिता ।।


दोस्तो जैसा कि मैने आर्टिकल के शुरुआत में कहा था कि हम आपको कल्पना चावला की मौत के राज को खोलेंगे ,
तो आइए बात करते है , 

जब ये space shuttle columbia disaster की घटना हो चुकी थी तब सीधी सी बात है NASA पर उंगली तो उठनी ही थी ,

इसलिये Nasa ने ही एक Investigation Team तैयार की , जो इस columbia explosion की जांच करे ।

दोस्तो इस घटना की जांच जब कि गई तो NASA के खुद के पाँव उखड़ने लगे ,

पढ़िये NASA के और भी कई राज , दिए गए Link पर क्लिक करे ::--  👇👇👇

  NASA Ki Rahasyamai Khoj Or Raaj


क्योकि दूसरी बार की जाँच में ये सामने आया कि एक फोम के टुकड़े का उसकी जगह से अलग होने के कारण ये ब्लास्ट हुआ , 

पर इस बात को मानने के लिये कोई तैयार नही हुआ , 

की क्या कभी एक फोम का हल्का टुकड़ा ऐसा कर सकता है

 क्योकि ये फोम वही था जो स्पेस शटल कोलम्बिया के Wing में फ्यूल को बाहर की हिट से बचाता है , 

और ये बहुत सॉफ्ट होता है , क्या कभी कोई Soft Form का टुकड़ा ऐसा कर सकता है ,

क्योकि अगर ऐसा हुआ है तो क्या NASA के वो वैज्ञानिक तब क्या कर रहे थे जब स्पेस शटल कोलम्बिया को रीचेक किया गया ,

ये जांच अमेरिका की Navy के एक बहुत बड़े Superior Officer को सौपी गई थी , और उन्होंने ये NASA को सिद्ध करके बता दिया कि ऐसा हुआ है ,

उन्होंने एक काँच का बॉक्स लिया और वही मेटल जो उस स्पेस शटल में होता है को वहाँ अच्छे से कस दिया , 

और अब उस मुलायम फोम के टुकड़े को एक ऐसी गन से Shoot किया जिसमें Shoot करने की वही पॉवर और स्पीड हो जो उस वक़्त उस स्पेस शटल कोलम्बिया की रही थी ,

और जब शूट हुआ तो सभी हैरान थे , 

की उस फोम के टुकड़े ने उस मेटल को छेद दिया है , जिसके बारे में NASA बड़ी डींगे हाँक रहा था , की ऐसा नही हो सकता ,

और इस परीक्षण के बाद नासा और भी ज्यादा फॉल्ट में आ गया ।

Kalpana Chawla
Kalpana Chawla Ki Puri Jankari Hindi Me


एक और चौकाने वाला खुलासा खुद उस व्यक्ति ने किया जो उस वक़्त उस Columbia Mission के प्रोग्राम मैनेजर थे , 

वेन हेल के मुताबिक NASA को पहले ही पता था कि क्रू मेम्बर्स अब धरती पर वापिस नही लौट पाएंगे , 

क्योकि अगर मेम्बर्स को पता चल भी जाता तो वे सिर्फ आक्सीजन की लिमिट तक जीवित रह पाते , उसके बाद अंतरिक्ष मे होने वाली प्रक्रिया के दौरान वे स्वंय ही खत्म हो जाते ,

लेकिन बात यहाँ किसी को पता चलने की नही है , बात ये है कि NASA जैसी स्पेस एजेंसी इतनी गैरजिम्मेदाराना हरकत कैसे कर सकती है ,

और प्रोग्राम मैनेजर के इस खुलासे के बाद नासा द्वारा इनकी बातों का खंडन तक नही किया गया , मतलब साफ है कि नासा फॉल्ट में था ,


गौरतलब है कि Kalpana Chawla के पिता ने भी इन बयानों को खारिज कर दिया है ,

लेकिन उंगली तो नासा पर उठेगी ही, 

की आखिर क्यों इतनी बड़ी चूक हुई इस मिशन में जिससे कि Space Shuttle Disaster जैसी घटना घटित हुई ।




दोस्तो आपके जो भी विचार हो , आप हमें Comment करके बता सकते है , और इस Pink Color के बेल आइकन को दबाकर हमे सब्सक्राइब भी कर सकते है ।।

धन्यवाद ।। 🙏🙏




Previous
Next Post »

Worlds Famous Person